Electro Homeopathic treatment of Alopecia एलोपेसिया क्या है इसके कारण लक्षण और उपचार

एलोपेसिया (Alopecia) me इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा electro homeopathy treatment electro homeopathy books electro homeopathy benefits electropathy

एलोपेसिया क्या है इसके कारण लक्षण और उपचार  Electro Homeopathic teatment Of Alopecia

आज की इस पोस्ट में चर्चा की जाएगी बालों से संबंधित एक चिंताजनक रोक की जिससे आज के समय में हर कोई पीड़ित हो सकता है। आमतौर पर तो सभी के बाल झड़ते हैं लेकिन जब यह बाल सामान्य से ज्यादा झड़ने लगते हैं तो यह एक चिंताजनक विषय बन जाता है।


जब रोजाना और अधिक मात्रा में बाल गिरने लगते हैं तो यह समस्या सामान्य ना होकर
एलोपेसिया (Alopecia) रोग की ओर इशारा करती है। कई बार तो सिर के अलावा शरीर के अन्य भागों से भी बाल आसामान्य रूप से झड़ने लगते हैं अतः इस समस्या के मद्देनजर आज इलेक्ट्रो होम्योपैथी मेडिसिन से संबंधित इस साइट पर एलोपेसिया रोग क्या है What is alopecia ,  क्यों होता है,  लक्षण क्या है, Alopecia treatment by Electro Homeopathy remedy इस पर सारी जानकारी देने जा रहे हैं। (यह भी पढ़ें : फार्मेसी (भेषजी) का इतिहास

एलोपेसिया क्या है 

एलोपेसिया एक बाल झड़ने वाला रोग है जिसमें पुरुषों और महिलाओं के  सिर के अलग-अलग हिस्सों के बाल झड़ने लगते हैं। जिनमें पुरुषों के बाल आगे से और साइड से झड़ने शुरू होते हैं। वहीं महिलाओं में सिर के ऊपरी हिस्से में बीच के भाग से झड़ने शुरू हो जाते हैं। 
अक्सर देखा गया है कि महिलाओं के बाल पूरी तरह खत्म नहीं होते लेकिन पुरुषों में अगर इस पर ध्यान ना दिया जाए तो पीछे के कुछ भाग को छोड़कर पूरी खोपड़ी का भाग चिकना हो सकता है।
इसी रोग को मेडिकल भाषा में एलोपेसिया कहा जाता है। (यह भी पढ़ें : क्या इलेक्ट्रो होम्योपैथी में नए पौधे शामिल करना चाहिए?

एलोपेसिया के प्रकार 

एलोपेसिया रोग को मुख्यतः छह भागों में विभाजित किया गया है।

एलोपेसिया अरेटा– इस प्रकार के एलोपेसिया रोग में शरीर के किसी भी भाग भाग के बाल झड़ सकते हैं ।

एंड्रोजेनिक एलोपेसिया― एलोपेसिया के इस प्रकार में जींस और हार्मोन के बदलाव के कारण एक पैटर्न में बाल झड़ने लगते हैं।

टेलोजन एफ़्लुवियम― इस प्रकार का एलोपेसिया खानपान में गड़बड़ी, दवाओं के दुष्प्रभाव, तनाव , लीवर संबंधी बीमारी के कारण हो सकता है। जिसमें रोजाना 100 से अधिक बाल झड़ने लगते हैं।

ट्रॉमेटिक एलोपेसिया― इस प्रकार के एलोपेसिया में रोगी को बालों को खींचने की आदत होती है।

एलोपेसिया टीनिया― इस प्रकार के एलोपेसिया में बाल झड़ने का कारण होता है, बालों की जड़ों में काले धब्बे का बनना। (यह भी पढ़ें : ऑस्टियोमाइलाइटिस क्या है? हड्डियों का गलना क्या है? Osteomyelitis in Hindi

ऐनाजेन एफ़्लुवियम― इस प्रकार का एलोपेसिया रोग कैंसर रोग से पीड़ित उन रोगियों को होता है जिनकी कीमोथेरेपी चल रही होती है।

एलोपेसिया के लक्षण 

एलोपेसिया का प्रमुख लक्षण है बालों का झड़ना 

बालों की जड़ों में काले धब्बे दिखाई देना 

बालों को हाथ में पकड़ते ही टूटना 

नाखूनों पर प्रभाव पड़ना नाखून में धब्बे होना व टूटना 

सिर के साथ अन्य हिस्सों के बाल झड़ना 

एलोपेसिया का कारण 
अनुवांशिक 

प्रेगनेंसी 

मेनोपॉज

हाइपर या हाइपोथाइरॉएडिज्म 

यह भी पढ़ें : Electro Homeopathy treatment of Schizophrenia
यह भी पढ़ें : Electro Homeopathy treatment of Buerger Desease
यह भी पढ़ें : 
Electro Homeopathy treatment of Diphtheria

शुगर, कैंसर, अर्थराइटिस, गाउट, हाई बीपी, हृदय रोग की दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण 

कभी-कभी हेयर प्रोडक्ट के इस्तेमाल से भी एलोपेसिया की समस्या आ जाती है

उम्र का बढ़ना 

चिंता और तनाव 


जांच–  स्किन बायोप्सी, ब्लड टेस्ट

एलोपेसिया की इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा Alopecia treatment by Electro Homeopathy remedy


S5 + C5 + L1 + GE ― D10 to D30 की 10 बून्द 4 बार

S10 + A1 + F1 + C4 + Ven1 ― D10 to D30 की 10 बून्द 4 बार

C4 + S5 + Ver1 + Ge ― D3 से प्रत्येक के 10 बून्द तेल में मिक्स करके प्रयोग करें।

इलेक्ट्रो होम्योपैथी संबंधी पोस्ट की सूचना पाने के लिए व्हाट्सएप्प एवं टेलीग्राम ग्रुप जॉइन करें नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।
Join Whatsapp & Telegram Group for get notification of new Post
Click here to Join»  WhatsApp  Telegram 



2 comments

  1. Very nice, helpul information
  2. क्या आपकी इलेक्ट्रो होम्योपैथी की दवा से जो बाल पहले से गायब हो चुके हैं वह भी पुनः वापस आ सकते हैं हमारे सिर के आगे के हिस्से से बालों का झड़ना स्टार्ट हुआ था और आगे के बाल दोनों साइड से दो इंच तक झड़ चुके हैं और उस जगह की त्वचा चिकनी हो गई है कृपया प्रतिक्रिया अवश्य दें धन्यवाद
Please donot enter any spam link in the comment box.